103% Depression/तनाव/चिंता को दूर करें- हिंदी/ENG
अगर आप कभी depression से गुज़रे है तो आप जानते होंगे की कितना कठिन होता है इससे बहार निकलना. कोई मानता है की डिप्रेशन को बात करके सुलझा सकते है तो कोई योग करने को कहता है. इस blog में हम depression को दिमाग को बाहर निकालने के लिए सभी उपायों को बताने जा रहे हैं।

यहां से सीधे विषयों के लिए जाएं:

डिप्रेशन क्या है?

(Sciene) Depression एक मानसिक विकार(मानसिक रोग) है जिसमें कोई भी स्थिति का व्यक्ति के जीवन पर बहुत प्रभाव पड़ता है।

यह तो doctor लोगो ने कहा है, पर हमारे नज़र में यह क्या है, जानिये,

Depression वास्तव में एक बहुत ही सरल भावना है, अकेलेपन और उदासी का मिश्रण है, जिससे लोगो को मानसिक तणाव झेलना पड़ता है।
लेकिन यह एक गंभीर समस्या के रूप में बदल जाती है, जब कोई इसे अधिक गंभीरता से लेता है और आत्महत्या का विचार रखता है।

क्या कोई depression को गंभीरता से लेता है या नहीं?
जी हां बहुत से लोग depression का शिकार हुए है और बहुतो ने इसे गंभीरता से लिया और इसी कारण उन्होंने आत्महत्या भी कर ली.

हमने यह blog इसीलिए लिखा है की हम लोगो को ये बता सकें की आत्महत्या किसी भी समस्या का हल नहीं है.

क्या आप भी depression में है?

आप depression के शिकार तभी होंगे जब आपको लगेगा कि आप स्थिति को हल करने में सक्षम नहीं है. अन्यथा, यह सिर्फ एक डर है।

यदि आप चिंता में खुद को हानि करने और आत्मघाती विचारों से पीड़ित हैं तो आपको इसे गंभीरता से लेना चाहिए।

अगर आप नहीं समझ पाएं है तो चिंता न करें।

depression के लक्षण:

  • देखें कि ये लक्षण आपकी वर्तमान स्थिति से मेल खाते हैं या नहीं।
  • हमेशा गुस्से में रहना (बिना किसी कारण के)?
  • बार-बार अपनी समस्याओं के बारे में सोचना?
  • हर रोज करने वाले कामो में कोई रुचि नहीं (कोई ऊर्जा नहीं)?
  • कुछ भी करने में कोई दिलचस्पी नहीं?
  • हर बार खुद को दोषी महसूस करना?
  • आत्मघाती विचार?
अगर आप ऊपर दिए गए लक्षणों से प्रभावित है तो आप depression में है.

हालाँकि, अगर आपके मन में आत्महत्या के विचार हैं, तो सबसे पहले आपको खुद पर काबू पाना सीखना होगा.


Depression क्यों होता है?

Depression डर का एक विवरण है, यह तब होता है जब कोई इंसान खुद पर नियंत्रण खो देते हैं।

क्या आपको याद है,
वो भावना, जब आप अपनी परीक्षा में कम नंबर(marks) लाएं थे और चिंतित थे कि आप अपने माता-पिता को कैसे बताएं?

या

उस दिन / वो भावना जब आप दिया गया काम समय पर नहीं कर पाएं और अब आपको अपने बॉस के गुस्से का सामना करना पड़ेगा।

क्या आपको अभी भी याद है वो स्तिथि?
अगर हां, तो आप आप जानते होंगे की आप उस समय depression में थे, पर आज आप इससे डर कहेंगे.

Depression को दूर करते ही उसे भय कहा जाता है।
यदि आप मुझसे सहमत नहीं हैं तो अपर दिए गया लक्षणों को ऊपर की स्तिथि से मिला कर देखिये और साथ ही साथ अपने माता-पिता या बॉस के सामने जाने से पहले के कुछ पल याद करें।

Depression का मूल कारण उन स्थितियों / जीवन-समस्याओं से मन ही मन झूझना है, जिनसे आप गुजरे थे।
यदि आपको लगता है कि यह एक मानसिक बीमारी है, तो इसे एक बीमारी के रूप में मानें, व्यस्त रहें। यह तब बढ़ता है जब आप इसके(स्थिति) बारे में सोचते हैं, बस व्यस्त रहें ताकि मानसिक स्वास्थ्य आपका अच्छा रहे।

// क्या Depression किसी को आत्मघात की ओर ले जाता है? (आत्महत्या)

Depreesion कैसे दूर करें?

क्या आप 'स्वाभाविक रूप से अवसाद(depression) को कैसे दूर करें?' की खोज कर रहे हैं, तो निम्नलिखित tips आपकी बहुत मदद करेंगी।

तो चलिए जानते है की क्या है डिप्रेशन क उपाय?

आप जिस पर भरोसा करते हैं, उससे बात करें।

tension ka illaj

हाँ। आपको किसी के साथ स्थिति पर चर्चा करनी चाहिए ताकि आप उस स्थिति / समस्या के विभिन्न दृष्टिकोणों को जान सकें।

किसी से बात कर करें

क्या समस्याओं पर चर्चा करना वास्तव में काम करता है?

हाँ।
अगर आप इससे सहमत नहीं हैं तो मुझे कहना होगा कि आपने अभी तक खुद को ठीक से नहीं परखा। समस्याओं पर चर्चा करने से आप हल्का महसूस करेंगे यानी आपका कुछ प्रतिशत depression कम होगा.

अधिकांश समय, किसी व्यक्ति के साथ पूरी स्थिति पर चर्चा करने के बाद आपको कम दोषी महसूस कर सकता है क्योंकि उदास महसूस करना या depression में जाने का अर्थ है उसी स्थिति को बार बार सोचना।

और साथ ही, आपको इससे बाहर निकलने का एक बेहतर तरीका भी मिल सकता है।

यदि आप ऊब गए हैं तो मेरा वास्तविक जीवन का उदाहरण जानिये।
हर कोई depression की अपनी प्राथमिकताओं से उदास है। कुछ को अपने प्रियजनों के गुस्से से depression होता है, जबकि कुछ लोग सोशल मीडिया पर अपलोड करने के लिए एक भी तस्वीर नहीं होने के कारण depression में होते है। मेरा विश्वास करें, मैं बहुत सारे depression में गए हुए लोगों से मिला हु और उनमें से बहुतों ने सिर्फ depression की परिभाषा को अपने हिसाब से समझा है, यह ऐसा है जैसे की वह उदास है तो वो depression में है, बस (स्थिति चाहे कितनी भी सरल क्यों न हो)।

इसके अलावा, कुछ लोग खुद को सिर्फ उन छोटे कारण से नुकसान पहुंचाते हैं, जिस पर आप विश्वास नहीं कर सकते। मैं आपको उन स्थितियों / समस्याओं के बारे में नहीं बताऊंगा क्योंकि यह पढ़ने वाले लोगो में से बहुतांश लोग ऐसा ही करते होंगे(आप नहीं पर कोई और) और मैं किसी को भी दुखी नहीं करना चाहता.

रुकिए, क्या आप जानते हैं कि तनाव और depression दूर करने के लिए मैं क्या करता हूँ ?

मैं सो जाता हूँ। (सच में )
परिणाम से एक दिन पहले, मैं इतना चिंतित था की मैं बता नहीं सकता, (सब कुछ छोड़ देने का मन होता था) क्योंकि मुझे पता है कि मैं फ़ैल होने जा रहा हूं (लेकिन मैं पास होने में कामयाब रहा)। मुझे वह स्थिति पूरी तरह याद थी क्योंकि उसके बाद मैंने परीक्षा में अच्छा प्रदर्शन किया।

तो जब मैं दिन भर उदास रहने के बाद जगा, तो मुझे रिजल्ट की चिंता ही नहीं रही। ऐसा बोहोत बार हुआ है की मैं नींद से जाएगा और मुझे कोई चिंता नहीं होती पर उस समय तक मैंने इस बात पर कभी ध्यान नहीं दिया।

दिलचस्प लगता है, हैना। दरअसल, जब मैं depression में होता हूं, तो मैं बहुत सोता हूं और जब अगली सुबह उठता हूं तो उस स्थिति को लेकर आगे बढ़ गया होता हूं।
हाँ यह मेरे लिए चमत्कार की तरह है.

आप मेरे जैसे ही सो कर सब चिंता भुलाने का प्रयत्न कर सकते है, लेकिन मैं आपको इसकी गारंटी नहीं देता।
 

अपने बड़ों और प्रियजनों के साथ समय बिताएं।

आज की पीढ़ी पुरानी पीढ़ी से दूर जा रही है और सामाजिक जीवन में अधिक उलझी हुई है। सोशल मीडिया / सोशल स्टेटस सिर्फ एक भ्रम है, आप उन सोशल स्टेटस के साथ कुछ नहीं कर सकते हैं। जो लोग कह रहे हैं कि हम सोशल मीडिया से सेलिब्रिटीज (verified अकाउंट वाले) बना जा सकता है, वह सिर्फ खुद को बेवकूफ बना रहे हैं क्योंकि ये (सोशल मीडिया प्रभावित) मशहूर हस्तियों) वे हैं जो यह जानते हैं कि लोगों के साथ कैसे जुड़ना है, किस तरह से बातचीत करनी है ताकि लोग प्रभावित हों।
sushant singh rajput depression


वे वास्तविक दुनिया से सीखते हैं और इंटरनेट में आजमाते हैं।

एक संस्था (नाम याद नहीं है) के अनुसार, हर देश के अधिकांश बच्चे अपने सामाजिक मुद्दों (ऑनलाइन ट्रोलिंग, अकेलापन, हँसी-मजाक आदि) के कारण बहुत कम चीजों के लिए 20 साल की उम्र से पहले ही depresion में चले जातें हैं।

इसलिए, मैं आसानी से कह सकता हूं कि परिवार के लोगों के साथ समय बिताना depression के मामले में अधिक उपयोगी होता है।

खुद का निरिक्षण यानी obeservation करें।

यह सबसे अच्छा तरीका है डिप्रेशन से छुटकारा पाने के लिए, अगर आपके पास अपनी स्थिति और भावनाओं को बताने के लिए कोई है।
observe

सुधार करना और आगे बढ़ना पहला कदम है। मुझे पता है कि ज्यादातर लोग इसे छोड़ देते हैं क्योंकि उन्हें लगता है कि उन्होंने हर बार ऐसा किया है।

लेकिन नहीं। शायद यही एक कारण है कि आप उदास क्यों हैं। अगर खुद का निरिक्षण इतना ही जरुरी है तो हमने इसे सभी पहले क्यों नहीं लिखा?

इसका कारण यह है कि हम में से अधिकांश लोग सबसे आसान तरीका अपनाते हैं, लेकिन निरिक्षण सबसे कठिन काम है जब इसे सही तरीके से करने की बात आती है।

तो, निरिक्षण कैसे करें:

यहाँ निरिक्षण करने का अर्थ है की उन पिछली स्थितियों को याद करना जो आपको दोषी महसूस कराती हैं या वो भावनाएं जो आपको depresion की ओर ले जाती हैं। पूरी स्थिति, सभी के निर्णय और सभी की सोच, सभी की भावना, सब कुछ के बारे में सोचें।

बस आप के कमजोर बिंदुओं का निरीक्षण करें, ऐसा क्यों हुआ, सब कुछ गड़बड़ क्यों हुआ। इसे दूसरे के दृष्टिकोण से सोचने का प्रयास करें।

यह निश्चित रूप से काम करता है और इससे नकारात्मक सोच से छुटकारा भी मिल जाता है।

प्रकृति

यदि आप शिविर में किसी को जानते हैं, तो उनसे पूछें कि क्या प्रकृति डिप्रेशन के दर्द को ठीक कर सकती है। उत्तर 100% होगा।

प्रकृति की खोज का मतलब है, हर चीज की सुंदरता (भगवन के द्वारा बनाई गई) की खोज। प्रकृति की खोज करने पर आप जो लाभ ले सकते हैं, वह हैं:

आप दर्दनाक भावनाओं, अकेलेपन को भूल जायेंगे।
आप चीजों को देखने के लिए एक नया रास्ता खोज सकते हैं।
नए विचार और नया आत्मविश्वास।

नोट: पहाड़ों और जंगलों पर ट्रैकिंग के लिए जाने की कोई आवश्यकता नहीं है, बस एक शांत जगह (शहर के यातायात से दूर) जैसे कि उद्यान, पार्क, आदि देखें, जहाँ आप बिना किसी चिंता के बैठ सकते हैं। प्रकृति के संगीत को सुनने और देखने पर ध्यान दें और प्रकृति के सौंदर्य को पहचाने। गाने मत सुन्ना, यह आपकी भावनाओं को जागृत कर सकता है।

और हो सके तो नकारात्मक विषयों को अपने से दूर रखें और साथी ही ध्यान लगाने की कोशिश करें ताकि आपको मन की शांति मिलें और आपकी चिंता/तनाव दूर हो.

कामो की सूचि बनायें

अपने आप को depression से तेजी से दूर करने के लिए आपको उन स्थितियों के बारे में सोचना भूल जाना होगा जितनी जल्दी हो सके।
तनाव


सूचि कैसे बनायें?
इससे यह फायदा होगा की आप अपने कामो में इतना व्यस्त हो जाएंगे की आपको वह स्तिथियाँ याद ही नहीं रहेंगी.

इसके लिए जागने से लेकर बिस्तर पर जाने (पूरी तरह से थकने) तक का शेड्यूल बनाना होगा।

पूरी तरह से थकने का मतलब यह है कि जब आप सोने जाते हैं तो आपके पास सोचने और सोने के बीच कोई विकल्प ही ना बचे। (जैसे ही आप बिस्तर पर जाएँ , आप सुंदर नींद में चले जाएँ।)

नोट: जितना अधिक आप अपने आप को काम से मुक्त करते हैं, उतना ही आप depression में जाते हैं। इसीलिए आपको ये उद्देश्य रखना है की आप दिन भर कामों में उलझे रहे ताकि जल्द ही आप उन तनाव भरी बातों को भूल जाए.

स्वयं को पुरस्करित करें।

(शेड्यूल) सूची में लक्ष्य(goal) के लिए एक विभाजन भी बनाएं। जब आप कहते हैं कि आप काम से मुक्त हैं, तो अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने का प्रयास करना है।
लक्ष्य कभी छोटा या बडा नहीं होता। यह आपका प्रयास निश्चित करता है।
इसलिए, हर लक्ष्य को लिखें।

अपने लक्ष्य को हासिल करने के लिए हमेशा खुद को पुरस्कृत करना याद रखें। इसका बार-बार अभ्यास करने से आपको जीवन की हर समस्या से लड़ने का आत्मविश्वास बढ़ सकता है, अंततः depression भी।

स्वस्थ खाओ और पियो।

लगभग 38% बचे मोटा या पतला होने के लिए स्कूलों और कॉलेजों में तंग होने से depression में चलें जातें है ।

डिप्रेशन कभी-कभार स्वयं द्वारा बनाया जाता है, कुछ हासिल करने के लिए आपको कुछ भूलना होगा। बस।

एक बार जब आप शुरू करते हैं, तो कोई भी आपको रोक नहीं सकता है, एक बार जब आप अपनी इच्छा शक्ति से शुरू करते हैं, तो कोई depression नहीं होगा क्योंकि आपके पास कुछ करने का आत्मविश्वास होगा। इस स्थिति में, अवसाद(depression) केवल आपके शुरू होने तक रहता है।

अगर आप शारीरिक रुप से अच्छे है तो आप आराम से अपने आप में आत्मविश्वास जगा सकते है.

तो, आज ही शुरू करें। स्वस्थ खाओ और पियो।

अपने आप को सुधारो और खुद पर गर्व करो.

कभी-कभी आपको स्वाभाविक रूप से सब-कुछ भूल कर आगे बढ़ना होगा।
कई बार, हमें उन परिस्थितियों का सामना करना पड़ता है जो हल नहीं हो सकते हैं। बेहतर होगा कि आप आगे बढ़ें, चिंता न करें और न ही दोषी महसूस करें।

जीवन, अचानक आने वाली परिस्थितियों और न सोचे हुए दर्द के बारे में है, कभी-कभी कुछ परिस्थितियां सुखद अंत के साथ समाप्त हो जाती हैं और कभी-कभी हमें ही समझौता करना पड़ता है।

इसलिए, आगे बढ़ना सीखें

डिप्रेशन की दवा(डिप्रेशन ट्रीटमेंट)

इससे मुक्ति पाने के लिए डॉक्टर के पास जायें.
take medications


यदि आप गंभीर रूप से depression में हैं, पैनिक अटैक (चिंता से बेहोश होना), या आत्महत्या (आत्मघात) के विचारों से पीड़ित हैं, तो आपको निश्चित रूप से अवसाद (depression ) का उपचार(इलाज) करना होगा।

उपरोक्त स्थितियों में, आपको वास्तव में एक डॉक्टर और दवा की आवश्यकता होती है।

अगर आपको लगता है कि आपको ज़रूरत नहीं थी, तो मेरे पास आपके लिए एक उदाहरण है कि यह दिखाने के लिए कि यह स्थिति कितनी बदतर है, अगर आपने कुछ भी नहीं किया तो।

कभी एक फिल्म देखी जिसमें एक पुलिस अधिकारी पीड़ित से बंदूक नीचे करने के लिए कहता है, कितनी विनम्रता से पूछता है (कभी देखा)। अब एक बातूनी लड़ाई की एक और स्थिति लें जिसमें एक व्यक्ति, एक ठंडा व्यक्ति को एक लड़ने के लिए प्रोत्साहित कर रहा है।
आप निष्कर्ष जानते हैं, बातूनी लड़ाई आसानी से मार-पिट में बदल जाती है, ऐसा इसलिए है क्योंकि किसी को
गरम माहौल में उकसाने(प्रोत्साहित करने) से वो व्यक्ति आसानी से नियंत्रण से बाहर हो सकता हैं।

डिप्रेशन की स्थिति उपरोक्त उदाहरण के समान है, यदि आप हर दिन अपनी चिंता / दर्द / भावनाओं से लड़ते हैं, तो एक दिन आप नियंत्रण से बाहर हो जाएंगे और वह कदम भी उठाएंगे, जो आपको कभी नहीं करना चाहते है।

अगर फिर भी मन में कोई संकोच है या आप डिप्रेशन पर काबू नहीं कर पा रहे है तो निचे दिए गए हेल्पलाइन नंबर पर कॉल करें.

और अपने देश की खोज करें और साइट पर सूची में दी गयी हेल्पलाइन पर कॉल करें।
समस्याओं पर चर्चा करना ही समाधान है।
तो, फोन ले और कॉल करें

क्या आप जानते हैं कि हमारे पास एक इंस्टाग्राम मोटिवेशनल पेज है:
इसे हर रोज प्रेरणा प्राप्त करने लिए देखें (हर रोज कुछ नया | सफल होने में हम मदद करेंगे)



सफल लोगों की कहानियां जाने और उन कहानियों से सीखे-
9 tips: How to overcome Depression - Motivational Dose
Hey! ever gone through depression or always going through it? No one believes or doesn't have anyone to share it with? We are going to cover all the details from having a depression to kicking out from the mind.
How to overcome depression

Go for the topics from here directly:

What is depression?

(Biological) Depression is a mental disorder in which an unexpected situation had a great impact on a person's daily routine.

Don't be able to relate to the biological explanation.
So, here's the explanation of our side.

Depression is actually a very simple feeling, a mixture of loneliness and sadness.
But it is a severe problem when someone takes it more seriously and has suicidal thoughts.

Does someone take the Depression seriously or not?

suicide

The answer is YES or maybe NO, depending on the situation.
If you have depression, just ask yourself whether or not you can solve that problem.

You have depression only when you think you can't able to solve the situation. Otherwise, it's just a fear.

If you are suffering from anxiety attacks and suicidal thoughts(self-harming) then you should take it seriously.
Don't worry if you don't get it. It happens to most people.

Symptoms of Depression:

See whether these symptoms match your current situation or not.
  • Always in Angry Mood(for no reason)?
  • Thinking of your problems repeatedly?
  • No interest(No Energy) to follow daily routines?
  • No interest in doing anything?
  • Feeling Guilty every time?
  • Suicidal thoughts(Self-harming)?
Who should follow the above steps?
Everyone, from having a single symptom to having it all.

However, if you have suicidal thoughts in your mind then first read How to overcome suicidal thoughts. Then take serious medications and talk to your loved once about the thoughts.

Why does the Depression happen?

Depression is a stage of fear, it happens when you lose control of yourself.
Do you remember,
that day/emotion when you got C in your exams and get worried about how you are going to tell your parents?

or

that day/emotion when you won't be able to achieve your deadline and you have to face your boss's anger for the first time.

Are these above situations are depression?

Yes, as you read the above situations, these are just a fear where you lost your full control. The above situations are depression at that time to you, but now these are just fear.

If you move on or are able to overcome the depression it's been called fear. If you don't agree with me then remember the above situation and read the symptoms.

Or just think of the previous day before facing your parent's/boss in the above situations.

The root cause of the depression is overthinking situations/life-problems that you went through.
If you think it's a disorder then treat it as a disorder, be busy, it grows when you think of it(situation), just be busy.

// Does extreme depression leads someone to self-harm? (self-destruction)

How to overcome Depression?

Are you searching for 'How to overcome depression naturally?', then the following tips may help you a lot.

Talk to someone you trust.

Yes. You should discuss the situation with someone so that you get to know the different perspectives of that situation/problem.
talk to someone

Do discussing problems really work?

Yes.
If you don't agree with this then I must say that you don't observe yourself carefully. Discussing our problems will make you feel lighter i.e. you lost some percent of depression.

Most of the time after discussing the whole situation with a person can make you feel less guilty because feeling depressed or going into depression means overthinking the same situation but not exploring the situation.

Also, you may get a better way to get out of it.

Here's a real-life example of mine if you get bored.
Everyone is depressed with their own priorities of depression. Some got depression from the reactions of their loved ones while some literally depressed for not having a single pic to upload on social media. Believe me, I met so many depressed people and so many of them just faked the definition of depression, it's like they stressed they depressed(no matter what or how simple the situation is).

Also, some harm themselves just for that little reason that you can't able to believe. (I don't go to tell you the situations/problems because there may be some readers who are suffering from these simple life problems i.e. I don't want to hurt anybody). Yes, everybody moves on if they want.

But, hey wait, do you know what makes me overcome stress and depression?

It's Sleep(). Seriously, a day before the result, I am worried like hell, depressed(feels like ending up) like no one because I know I am going to fail(but I managed to get promoted). I remembered that situation fully because after that I performed well in exams(average kid).

So, when I woke up on the result day after being depressed, the whole day, I felt nothing means literally don't worrying about my result after waking up.

Sounds interesting. Actually, when I am depressed, I sleep a lot and when I wake up the next morning I move on with that situation. Ya! that's my superpower.

You may try my super-power but I don't guarantee you this.
 

Spend time with your elders and loved ones.

Today's generation is moving away with the older generation and engaging more in social life. Social media/Social status is just an illusion, you simply can't do anything with social status i.e. those who are saying we can be social media influencers, celebrities(having a verified account) are just fooling themselves because these(social media influencers, celebrities) are those ones who figured out how to engage with people, how to do conversation in such a way the people engaged.

They learn from the real world and apply through the internet.
feeling stressed

According to a study(don't remember the name), most of the teenagers from every country are depressed before 20yrs for very little things because of their social issues(online trolling, loneliness, etc.).

So, I can easily say spending time with real people(family) more than usual, will be more useful in the case of depression.

Observe yourself

This is the best working method if you have someone to share the situation and the feelings.
observe yourself


Observing is the first step to improve and to move on. I know most people are going to skip this because they think they did it every single time.

But No. It's maybe one of the reasons why you are depressed. You're gonna say that if it's that much important then why should I don't prioritize this as first.

This is because most of us follow the easiest way, but observation is the hardest thing when it comes to doing in the right way by ourselves.

So, how to observe:

Observing means to remember the past situations that make you feel guilty or that leads you to depression. Think of the whole situation, everyone's perspective, everyone's emotion, everything.

Just observe the weak points of yours, why it happened, why everything messed up. Try to relate it to the other's thinking perspective.

This definitely gonna work.

Explore Nature.

If you know someone in a medication camp, ask them whether nature can heal the pain of depression. The answer will be 100%.

Exploring nature means exploring the beauty of everything(created by GOD). On exploring the nature the benefit you are going to take are:

  • You are just going to forget about the painful feelings, loneliness.
  • You may discover a new path to see things.
  • New ideas and new confidence. 
Note: There is no need to go for tracking on mountains and in the forests, just find a quiet place(away from city traffic) like gardens, parks, etc, where you can sit without any worry. Focus on listening and observing nature's music and it's beauty. Don't listen to songs, it can release the feelings in you.

Scheduling

To overcome depression by yourself fastly you have to forget to think about those situations ASAP(as soon as possible).
how to make a schedule


To do this, you have to make yourself busy or make yourself stuck in work.

For that make a schedule from waking up to going to bed(fully exhausted).

Fully exhausted means to work that much that when you go to sleep you can't have any option between to think and to sleep.(i.e. as soon as you go to bed, you go into beautiful sleep.)

Note: The more you make yourself free of work, the more you are going into depression.

Reward Yourself.

Make a partition for Goals also in the schedule list. When you say you are free from work, improve yourself(i.e. try to achieve your goals).
Goals never are small or never be big. It's your effort that is small or big.
So, write every goal.

Always remember to reward yourself when you achieve your goal. Practicing this can grow your confidence in fighting every problem in your life, also eventually the depression.

Eat and drink healthy.

About 28% of teenagers are in depression to get bullied in schools and colleges for being fat and more than 16% of teenagers for being slim.

This depression is created by themselves, to achieve something you have to forget about something. That's it.

Once you start, no one can stop you, once you start with your own will power, there will be no depression because you'll have that confidence of doing something. In this situation, depression only lasts until you start.

So, start today. Eat and drink healthy.

Improve yourself Be yourself. (BE THE BEST VERSION)

Sometimes you have to move on naturally.

Once in a while, we have to face those situations that simply can't be solved. It's better to be moved on, not to worry or not to feel guilty for.

Life is all about unexpected situations and unexpected pains, sometimes some situations ended up with happy endings and sometimes we have to compromise.

So, learn to move on.

Take Medications

go to doctor

If you are seriously depressed, suffering from panic attacks(anxiety attacks), or suicidal(self-harming) thoughts then you have to surely take depression treatments.

In the above situations, You actually need a doctor.

If you think you didn't need then I have an example for you to show how worse this situation is going to be, if you didn't do anything.

Ever seen a movie in which a police officer asks the victim to down the gun, how politely he asks(ever noticed). Now take another situation of a vocal fight in which one of the people is encouraging a chilled person to have a fistfight. You know the conclusion, the vocal fight easily converted to a fistfight and the victim can surely fire the bullet.
This is because encouraging someone in a fired-up environment can easily make another person get out of control.

The situation of depression is the same as the above example, if you fight with your anxiety/pain/feelings every day, one day you will get out of control and also take that step that you never ever have to.

Still can't figure out, how to overcome depression and move on then just visit this 
and search for your country and make a call to the helpline listed on the site.
Discussing problems is the solution.
So, take the phone and call.

Do you know we have an Instagram Motivational page: Check it out for Daily DOSE of Motivation
-- @theyachived. 

Want to know some successful people's stories and What we can learn from their FAILURES. Then check this out.


क्रिस गार्डनर की सफलता की कहानी | Chris Gardner | They Achieved | Hindi/हिन्दी
chris gardner, सफलता की कहानी, संघर्ष की कहानी, सफल जीवन



यह क्रिस गार्डर(Chris Gardner) की सच्ची कहानी है, जिसने अपने जीवन में बहुत संघर्ष किया और बहुत से भयानक संघर्षो के बावजूद वह डट कर उनका सामना करते रहे और आज वह एक प्रेरणात्मक व्यक्ति के साथ एक करोड़पति, मोटिवेशनल स्पीकर, लेखक, और एक सफल स्टॉक ब्रोकर भी है

Jack Ma | Alibaba.com | Success Story | They Achieved
This success story covers the success of Jack Ma from his childhood,
Alibaba company is one of the biggest companies in the world which was founded by Jack Ma after a long struggle.

jack ma, success story, motivational stories, failures


Jack Ma
was born on 10 September 1964 in Hangzhou, China.
Hangzhou became a tourist spot where lots of tourists visit every day after the visit of US President Mr.Richard Nixon.
Jack Ma was very interested in learning English, so that time he used to work as a tour guide, not for money but to learn English. Jack Ma used to charge the tourist with a promise to teach him English on the tour.